अलवर हत्याकांड के विरोध में MSO का प्रदर्शन, गौरक्षकों पर उठाई पाबंदी की मांग

अलवर में गौरक्षक गुंडों द्वारा मोहम्मद उमर की गोली मारकर हत्या किए जाने के खिलाफ लोगों को गुस्सा फूट पड़ा है. देशभर में गौरक्षकों की गुंडागर्दी को विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है. तमाम संगठन गौरक्षकों की गुंडागर्दी का विरोध कर रहे हैं. जयपुर में भारतीय मुस्लिम छात्रों की सबसे बड़ी संस्था मुस्लिम स्टुडेंट ऑर्गेनाइजेशन ऑफ इंडिया (एमएसओ) ने कड़ा विरोध जताया।

एमएसओ के अध्यक्ष मोहसिन खान के नेतृत्व में जयपुर में एमएसओ कार्यकर्ताओं ने बड़ा विरोध प्रदर्शन किया. जुमे की नमाज के बाद जुटे एमएसओ कार्यकर्ताओं ने गौरक्षक गुंडों के खिलाफ मार्च निकाला. एमएसओ के अध्यक्ष मोहसिन खान ने कहा कि देशभऱ में बढ़ती गौरक्षकों की गुंडागर्दी अब बर्दाश्त के बाहर है. सरकार को जल्द ही इन गुंडों के खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए.

उन्होंने कहा कि पहले पहलू खान की हत्या की गई फिर उमर की हत्या की गई. ये सिलसिला गौरक्षकों की गुंडागर्दी का नतीजा है. गौरक्षक के निशाने पर मासूम मुस्लिम हैं, जो गाय पाल कर अपना रोजगार करते हैं. मोहसिन ने कहा कि सरकार जल्द से जल्द गौरक्षकों के खिलाफ कड़ी कारर्वाई होनी चाहिए.

आपको बता दें कि मेवात के किसान गाय पालन का काम करते हैं. वह अलवर और राजस्थान के दूसरों हिस्सों से गाय खरीदकर उसका पालन करते हैं. इन किसानों की हत्या आए दिन गौरक्षक गुंडे कर रहे हैं. पहले गौरक्षक गुंडों ने पहलू खान की हत्या की थी, इसके बाद उन्होंने मोहम्मद उमर की हत्या कर दी. लोग अब गौरक्षकों को गौ-आतंकी कहने लगे हैं. साथ ही बीजेपी सरकार में इन घटनाओं के बढ़ने पर एक साजिश के तौर पर देखा जा रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *